मेरे दिल से खेल तो रहे हो तुम पर..जरा सम्भल के…
ये थोडा टूटा हुआ है कहीं तुम्हे ही लग ना जाए..!!

admin

One thought on “

Leave a Reply

Your email address will not be published.